PPV {Public Point of View}

पापा के लिए एक संदेश

A message for dad
आज भी याद आते हैं बचपन के वो दिन…
जब उंगली मेरी पकड़कर आप ने चलना सिखाया।
इस तरह जिंदगी में चलना सिखाया…
जिंदगी की हर कसौटी पर आपको अपने करीब पाया।
हैप्पी फादर्स डे  

एक दिन काफी नहीं पापा को ये एहसास दिलाने के लिए शायद प्यार कम पड़ जाए पापा जैसा प्यार करने के लिए।  लेकिन जिंदगी भर मैं अपने पापा की परवाह करती हूं। शायद मै भी आपको ये एहसास ना दिला पाई जो दिलाना चाहती थी। और आपसे दूर हो गई। दुनिया ने रीति-रिवाज ही क्यों बनाए कि जिसने अपनी जिंदगी की कमाई हम पर लुटा दी। और  हम ही अपने पापा से पराए हो गए।

मैं दुआ करती काश एक और बचपन मिलता और इस बचपन में अपने पापा के साथ जीती। और हर रोज थोड़ा उन्हे परेशान करती और नादानी करती । ताकि वो हमें डांटते और बाद में हमें बड़े प्यार से गले लगा कर कहते और मुस्कुरा कर समझते।

मुझे पता है पापा हमने नादानी में बहुत परेशान किया। काश मैं आपकी परेशानी  नहीं बनती बल्कि आपकी चहरे की मुस्कुराहट बन पाती। ताकि मेरी जन्नत मेरी मां होती तो मेरे पापा आप मेरी दुनिया होते।

बिन बताए वो हर बात जान जाते है,
मेरे पापा मेरी हर बात मान जाते है।
हैप्पी फादर्स डे

ये कुछ लाइन है जिससे आज भी हम सब अनजान है, लेकिन एक पापा ही है जो हर बात जानते है। मां के लिए तो सब बोलते है, लेकिन आज हम पापा के लिए बहुत कुछ बोलते हैं। पापा आप ही मेरे सपनों को पूरा करना का जरिया हो।पापा आप ही मेरी गलतियों को माफ करने वाले सच्चे इंसान हो। काश। मैं छोटी होती और पापा के साथ होती तो सपने मेरे होते और पूरे मेरे पापा करते। मेरे पापा में मेरे लिए हौसला होते और हौसले में मेरी उड़ान होती। अगर में कहीं भटक भी जाती तो पापा मुझे सम्भाल लेते। काश में छोटी होती।

पापा ही जो हमारी हर बात मान जानते है, बिन कहे वो सब कुछ समझ जाते हैं। क्यों ना उन्हे भी यह एहसास दिलाया जाए। पापा की तरह मेरा भी राजकुमार होता। पापा ही जो हमारे लिए  मेहनत करते हो और हमारी ख्वाइशों को पूरा करते हो। काश हम भी आप जैसे होते औऱ आप की तरह हमारा दिल होता। काश हम कभी आप बनते और कभी आप हम बनते। तो शायद हमें भी एहसास होता क्या होते है पापा सबके।

असमंजस के पलों में अपना विश्वास दिलाया,
ऐसे पिता के प्यार से बड़ा कोई प्यार ना पाया।
हैप्पी फादर्स डे  

पापा के प्यार से बड़ा किसी का प्यार ना मिला।  मां का प्यार को सभी समझ सकते है लेकिन पापा का प्यार समझना ना मुमकिन होता है। पापा ही है वो जो हमें ये एहसास दिलाते है कि मेरे बच्चों के सपने पापा के अलावा कोई पूरा नहीं कर सकता है। चाहे कितनी भी मुश्किल क्यों ना हो चाहे कितने ही असमंजस में क्यों ना हो पापा में हमेशा हमने विश्वास पाया।

मेरे लिए पापा के कुछ खास बातें

मेरे मेरे पापा मेरे आदर्श है। क्योंकि मेरे पापा एक आदर्श पिता हैं। वे मेरे लिए केवल एक पापा ही नहीं बल्कि मेरे सबसे अच्छे दोस्त भी हैं, जो समय-समय पर मुझे अच्छी और बुरी बातों का आभास कराकर आगाह करते हैं।  पिता से अच्छा मार्गदर्शक कोई हो ही नहीं सकता। हर बच्चा अपने पिता से ही सारे गुण सीखता है जो उसे जीवन भर परिस्थितियों के अनुसार ढलने के काम आते हैं। उनकी कुछ विशेषताएं उन्हें दुनिया में सबसे खास बनाती है जैसे –

  • धीरज- पिताजी का सबसे महत्वपूर्ण गुण है, कि वे सदैव हर समय धीरज से काम लेते हैं और कभी खुद पर से आपा नहीं खोते। हर परिस्थिति में वे शांति से सोच समझ कर आगे बढ़ते हैं और गंभीर से गंभीर मामलों में भी धैर्य बनाए रखते हैं।
  • संयम-मैने हमेशा अपने पापा से सीखती हूं कि चाहे कुछ भी हो जाए, हमें अपने आप पर से नियंत्रण कभी नहीं खोना चाहिए। वे कभी मुझ पर या मां पर बिना वजह छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा नहीं करते।
  • अनुशासन-पिताजी हमेशा हमें अनुशासन में रहना सिखाते हैं और दूसरे पर रहमदिल होना सिखाते हैं। वो जरूरतमंतो की हमेशा मदद करते है।
  • प्यार-बेशक मेरे पापा अपना प्यार किसी को ना दिखाये लेकिन पापा मुझसे, और परिवार के सभी लोगों से बहुत प्यार करते हैं, वे घर में किसी भी तरह की कमी नहीं होने देते और हमारी जरूरतें और फरमाइशें भी पूरी करते हैं। ये हैं मेरे पापा का प्यार
  • बड़ा दिल-मेरे पापा का दिल शायद सबसे बड़ा है।  कई बार उनके पास पैसे नहीं होते हुए भी वे अपनी जरूरत भूलकर हमारी जरूरतों कोपूरा करते है। वे कभी हमें या परिवार के सदस्यों को किसी भी चीज के लिए तरसने नहीं देते। चाहे हमसे कितनी भी बड़ी गलती क्यों ना हो   पापा हमेशा हमें माफ कर देते हैं।

इन्हीं सब विशेषताओं के कारण पापा की महानता और बढ़ जाती है और उनकी तुलना दुनिया में किसी से भी नहीं की जा सकती। पिता हम जैसे बच्चों के लिए धरती पर खुदा का रूप लेकर होते हैं।  मेरे पापा मेरे लिए ना केवल पापा है। एक अच्छे दोस्त भी है, क्योंकि जब कभी भी मुझे उनकी जरूरत पड़ती है। वो मुझे एक अच्छे दोस्त की तरह ही सही दिशा दिखाते है।

I Love Very Much Papa

By Rukhsar Fatima

Related posts

यूनिकोड यहां पाठ्यपुस्तकों में आरएसएसः राष्ट्र और राष्ट्र निर्माण की विरोधाभासी अवधारणाएं

admin

कोरोना प्राकृतिक वायरस या मानवीय द्वारा पैदा की गई भयंकर बीमारी

admin

उपासना एवं पर्यावरण संरक्षण का महापर्व है छठ

admin

Leave a Comment

UA-148470943-1