Hinduism Religious

सावधान आज लगेगा चंद्रग्रहण, 10 खास बातें जो रखेगी आपको सुरक्षित

Be careful today lunar eclipse, 10 special things that will keep you safe

आज 5 जून को साल का दूसरा चंद्रग्रहण लगने जा रहा है। इससे पहले ये 10 जनवरी को लगा था।  इस बार का यह चंद्रग्रहण उपछाया चंद्रग्रहण होगा। उपछाया चंद्रग्रहण का कोई सूतक नहीं लगता है और इसका अर्थ है कि चांद पृथ्वी की हल्की छाया से होकर गुजरेगा।  आज लगने वाला उपछाया चंद्रग्रहण रात में 11 बजकर 15 मिनट से शुरू होगा  और रात में 2 बजकर 24 मिनट पर खत्म होगा। ये चंद्र ग्रहण ज्येष्ठ पूर्णिमा के दिन लग रहा है। इसके 9 घंटे पहले से सूतक लगने शुरू हो जाते है। बता दें कि चंद्रग्रहण के दौरान कई कार्य वर्जित होते है।

गर्भवती महिलाएं रखें विशेष ध्यान 

इन कार्यो को करने के लिए इसलिए मनाही होती है। क्योंकि इससे हमारे जीवन में दुष्प्रभाव पड़ते है चंद्रग्रहण के दौरान बहुत से कार्य वर्जित रहते है। जैसे चंद्रग्रहण काल के समय भोजन करना वर्जित होता है। चंद्रग्रहण के दिन फल, फूल, लकड़ी, पत्ते आदि तोड़ने को मना किया जाता है।

इसके अलावा गर्भवती महिलाओं को विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता होती है। इसके साथ-साथ ग्रहणकाल में भोजन करना जल पीना केश बनाना सोना मंजन करना व वस्त्र निचोड़ना ताला खोलना, आदि भी वर्जडित होते है इस ग्रहण में चंद्र्मा वृश्चिक राशि में ज्येष्ठ नश्रम नें लगने वाला है।

चंद्रग्रहण से पहले क्या और कितना खाएं 

वृश्चिक राशि वाले लोगों को सावधान रहने की जरूरत है।  इस ग्रहण में दूसरे ग्रहण के समान बाध्यताएं नहीं होती है लेकिन स्वास्थ्य की दृष्टि से कुछ बातों का ध्यान रखना होता है ग्रहण से लगभग दो घंटे पहले हल्का और आसानी से पचने वाला भोजन खाना सही माना जाता है। इस ग्रहण को स्ट्रोबेरी चंद्र ग्रहण का नाम से भी जाना जाता है।

जानिए इस चंद्रग्रहण के बारे में 10 खास बातें


  • 05 जून को लगने वाला चंद्रग्रहण करीब 03 घंटे तक प्रभावी रहेगा लेकिन रात 12 बजकर 54 मिनट पर इसका असर सबसे ज्यादा होगा। इसे भारत समेत एशिया, यूरोप, ऑस्ट्रेलिया और अफ्रीका में देखा जा सकेगा।


  • ये चंद्रग्रहण पीनम्ब्रल यानी उप छाया ग्रहण बताया जा रहा है। यानि इसमें पृथ्वी की मुख्य छाया के बाहर का हिस्सा चांद पर पड़ेगा जिससे उसकी चमक फीकी पड़ जाएगी।


  • चूंकि ये उप छाया ग्रहण है, इसलिए ग्रहण का असर बहुत ज़्यादा नहीं दिखेगा। चांद पर सिर्फ हल्की सी परछाई पड़ती दिखेगी, चांद बस थोड़ा-सा मटमैले रंग का दिखाई देगा।


  • खगोलशास्त्रियों का कहना है कि ये ग्रहण इतनी आसानी से शायद नजर नहीं आए। अगर आसमान साफ होगा और आप पूरे ध्यान से देखेंगे तो इसके प्रभाव आपको नजर आएंगे। इसमें भी चांद के उत्तरी हिस्से की चमक और दक्षिणी हिस्से की चमक में अंतर दिखेगा।


  • साल 2020 में कुल छह ग्रहण लगने हैं। इनमें से दो सूर्यग्रहण हैं। इसके अलावा चार चंद्रग्रहण होंगे। पहला चंद्रग्रहण 10 जनवरी को लग चुका है। ये दूसरा है। इसके बाद 5 जुलाई और 30 नवंबर को चंद्रग्रहण देखा जा सकेगा। वहीं इसी महीने एक और सूर्यग्रहण होगा, जो 21 जून को होगा। इसके बाद अगला सूर्यग्रहण 14 दिसंबर को होगा।


  • सूर्य की परिक्रमा के दौरान पृथ्वी, चांद और सूर्य के बीच में इस तरह आ जाती है कि चांद धरती की छाया से छिप जाता है. तब चंद्रग्रहण होता लेकिन यह तभी संभव है जब सूर्य, पृथ्वी और चंद्रमा अपनी कक्षा में एक दूसरे के बिल्कुल सीध में हों। पूर्णिमा के दिन जब सूर्य और चंद्रमा के बीच पृथ्वी आ जाती है तो उसकी छाया चंद्रमा पर पड़ती है। इससे चंद्रमा के छाया वाला भाग अंधकारमय रहता है। जब हम इस स्थिति में धरती से चांद को देखते हैं तो वह भाग हमें काला दिखाई पड़ता है। इसी वजह से इसे चंद्र ग्रहण कहा जाता है।


  • जब पृथ्वी सूर्य की किरणों को पूरी तरह से रोक लेती है तो उसे पूर्ण चंद्र ग्रहण कहते हैं लेकिन जब चंद्रमा का सिर्फ एक भाग छिपता है तो उसे आंशिक चंद्र ग्रहण कहते हैं।


  • टेलिस्‍कोप की मदद से देखने से ये चंद्र ग्रहण बहुत खूबसूरत नजर आएगा। इसे आप www.virtualtelescope.eu पर वर्चुअल टेलिस्‍कोप की मदद से देख सकते हैं।  इसके अलावा आप इसे यूट्यूब चैनल CosmoSapiens, Slooh पर लाइव देख सकते हैं।


  • आयुर्वेद की दृष्टि से, ग्रहण से दो घंटे पहले हल्का और आसानी से पचने वाला भोजन खाने की सलाह दी जाती है। ग्रहण के दौरान कुछ भी न खाएं और न ही पीएं।


  • चंद्र ग्रहण के दौरान या चंद्र ग्रहण को सीधे तौर पर देखना, आपकी आंखों को किसी भी तरह से नुकसान नहीं पहुंचाता। जबकि, सूर्य ग्रहण को नंगी आंखों से देखने पर यह आपकी आंखों को नुकसान पहुंचा सकता है।


 

Related posts

लॉकडाउन के बीच चांदी के सिंहासन पर विराजे रामलला, सीएम योगी रहे उपस्थित

admin

अक्षय तृतीया साल का सबसे शुभ दिन, क्या करें क्या न करें

admin

ख्वाजा गरीब नवाज़ र.अ. पर टिप्पणी से नाराज़ वर्ल्ड सूफ़ी फोरम के चेयरमैन कहा गोली और बोली दोनों घातक

admin

Leave a Comment

UA-148470943-1