14.5 C
New Delhi
28/01/2020
Breaking News State

मिनी इंडिया बनें शाहीन बाग को जनहित और कानून व्यवस्था को ध्यान में रखकर सुलझाएं- HC

Become a mini India and solve Shaheen Bagh keeping public interest and law and order in mind- HC

नई दिल्ली || देशभर में नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) और राष्ट्रीय नागरिकता पंजीकरण के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हो रहा है। देश की राजधानी दिल्ली के  शाहीन बाग इन नीतियों के विरोध की एक अलग ही छटा देखने को मिल रही है। लगभग एक महीने से जारी इस प्रदर्शन  में सर्व धर्म समभाव देखने को मिल रहा है। 15 दिसंबर से बंद शाहीन बाग की सड़क को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई के दौरान संबंधित विभागों से कहा कि वे इस मामले को जनहित एवं कानून व्यवस्था को ध्यान में रखकर सुलझाएं।

गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन कानून और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन के कारण 15 दिसंबर से बंद पड़े कालिंदी कुंज-शाहीन बाग के हिस्से को खोलने की मांग करते हुए दायर जनहित याचिका पर आज दिल्ली हाई कोर्ट सुनवाई हुई। मुख्य न्यायमूर्ति डीएन पटेल व न्यायमूर्ति सी हरिशंकर की पीठ ने दायर इस जन हित याचिका में कहा गया कि रास्ता बंद होने के कारण हर दिन यातायात प्रभावित हो रहा है और बड़ी संख्या में राहगीरों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। याचिका के अनुसार कालिंदी कुंज-शाहीन बाग का हिस्सा दिल्ली, फरीदाबाद और नोएडा के बड़े हिस्से को जोड़ता है और हजारों की संख्या में वाहन यहां से गुजरते हैं। लेकिन अब सब कुछ प्रभावित हो गया है।

बता दें कि दिल्ली के शाहीन बाग में जहाँ नागरिकता संशोधन अधिनियम और राष्ट्रीय नागरिकता पंजीकरण के खिलाफ प्रदर्शन हो रहे है वहीं समाजिक एकता की निराली छटा देखने को मिल रही है। शाहीन बाग ने आज मिनी इंडिया का रूप धारण कर एकता और सौहार्द की वह तस्वीर पेश की है जिससे भारत दूर होता नजर आ रहा है। शाहीन बाग में गीता के पाठ, हवन मंत्रोच्चाण और गुरबाणी के बीच अजान और कुरआन खानी के स्वर एक साथ सुनाई दे रहे है। अलग-अलग धर्म से ताल्लुक रखने वाले लोग हर धर्म में शिरकत कर मौलवी हवन में शिरकत कर रहे है तो पंडित कुरआन खानी और अजान में।

Related posts

हरियाणा में शपथ ग्रहण से पहले तिहाड़ से बाहर आए चौटाला

admin

महाराष्ट्र और हरियाणा के अलावा इन राज्यों से भी भाजपा को लगा झटका

admin

प्रकाशोत्सव के लिए श्रद्धालु तैयार, पासपोर्ट की अनिवार्यता को लेकर असमंजस में पाक

admin
UA-148470943-1