Breaking News Government Jobs and Forms

UP 69000 सहायक शिक्षक भर्ती पर बड़ी खबर, जाने किसने मारी बाजी

Big news on UP 69000 assistant teacher recruitment, who has won

प्रयागराज || उत्तर प्रदेश में 69000 सहायक शिक्षक के द्वारा कटऑफ को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। जिसके बाद फैसला को सुरक्षित रखते हुए तीन महीने के अंदर भर्ती प्रक्रिया को पूरी करने के आदेश दिए। हालांकि, 69000 TET सहायक शिक्षक पदों पर भर्ती परीक्षा की फाइनल आंसर की जारी कर दी गई है।  उम्मीदवार आज यानी नौ मई की दोपहर से इसे आधिकारिक वेबसाइट http://atrexam.upsdc.gov.in पर जाकर देख सकते हैं। यहां आपको पता चलेगा कि आपका इस परीक्षा में चयन हुआ है या नहीं।

फाइनल आंसर की जारी

उत्तर प्रदेश सरकार ने सहायक शिक्षक भर्ती 2019 के चारों सीरीज की आंसर की आठ जनवरी 2020 को विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जारी की थी। किसी भी तरह की आपत्ति दर्ज कराने के लिए 11 जनवरी 2020 तक का समय दिया गया था। इसके बाद सभी आपत्तियों पर विषय विशेषज्ञों की राय के आधार पर संशोधित यानी फाइनल आंसर की विभाग की वेबसाइट पर जारी की गई है। इसे उम्मीदवार आज दोपहर से http://atrexam.upsdc.gov.in पर जाकर देख सकते हैं और साथ ही आपको बता दें कि ये 17 मई 2020 तक उपलब्ध होगी। यानि इसकी अंतिम तिथि 17 मई 2020 है।

हाईकोर्ट ने तय की कटऑफ

बता दें कि उत्‍तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में 69000 TET सहायक शिक्षक पदों पर भर्ती की मामले में 15 मई 2020 तक सूची जारी करने की घोषणा की है। इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने इन पदों के लिए SC/ST/OBC/PwD के लिए 60% और जनरल के लिए 65% कट ऑफ तय की है। उत्‍तर प्रदेश सहायक शिक्षक भर्ती की प्रक्रिया में अब तेजी आएगी क्योंकि फाइल आसंर की आने के बाद जल्द ही परिणाम घोषित कर दिया जाएगा। आपको बता दें कि राज्‍य सरकार की ओर से की गई घोषणा के अनुसार 15 मई 2020 तक परिणाम जारी कर दिए जाएंगे। वहीं, उच्‍च न्‍यायालय द्वारा कटऑफ तय किए जाने के बाद उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने फाइनल रिजल्‍ट जल्‍द से जल्‍द जारी करने की घोषणा कर दी है।

क्या था पूरा मामला

भर्ती विज्ञापन में कहा गया था कि अभ्यर्थियों को न्यूनतम कट ऑफ अंक अर्जित करना होगा। मगर तब यह नहीं बताया गया था कि कट-ऑफ अंक कितना होगा। शासनादेश में इसका जिक्र नहीं किया गया था। बाद में शासन द्वारा कट-ऑफ अंक की घोषणा की गई जिसके तहत सामान्य वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए 150 में से 97 (65 फीसदी) और आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए 150 में 90 अंक (60 फीसदी) लाने की बात कही गई। इसी कटऑफ को लेकर परीक्षार्थियों ने हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में याचिका दायर की थी। जिसकी सुनवाई के बाद 3 मार्च 2020 को फैसला सुरक्षित रख लिया गया था। इसी मामले में हाईकोर्ट ने कुछ दिन पहले ही फैसला सुनाते हुए सरकार के पक्ष को मान लिया था और तीन महीने के अंदर भर्ती प्रक्रिया पूरी करने का आदेश दिया।

4 हजार से अधिक उम्मीदवारों ने दी थी परीक्षा

राज्य के परिषदीय विद्यालयों में 69 हजार सहायक अध्यापकों की भर्ती के लिए 5 दिसंबर 2018 को शासनादेश जारी कर ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया शुरू की गई थी। छह दिसंबर से 20 दिसंबर तक ऑनलाइन आवेदन लिए गए। इसके बाद 6 जनवरी 2019 को राज्य के 800 परीक्षा केंद्रों पर 4,10,440 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी। 21 हजार 26 परीक्षार्थी गैर हाजिर रहे।

Related posts

MP Borad Resalt- 10वीं के रिजल्ट में पहली बार एक साथ 15 छात्र ने हासिल की पहली रेंक,

admin

केन्द्रीय मंत्री का जम्मू दौरा झूठ फैलाना का तीसरा प्रयास- आज़ाद 

admin

महाराष्ट्र की सियासत में सभी कयासों पर प्रश्नचिन्ह, आखिर कब बनेगी सरकार

admin

Leave a Comment

UA-148470943-1