14.5 C
New Delhi
28/01/2020
Alert Breaking News Crime Alert

होटल पैराडाइस में लगे कैमरे के कैद हुए तिवारी हत्याकांड के हत्यारे

Camera murderers of Tiwari massacre in camera paradise

लखनऊ || हिन्दू महासभा के पूर्व अध्यक्ष और हिन्दू समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश तिवारी की दिन दहाड़े हुई हत्या ने सनसनी पैदा कर दी है। इस हत्याकांड ने जहाँ प्रशासन की सुरक्षा व्यवस्था को कटघरे में खड़ा कर दिया है। वहीं दूसरी तरफ जन आक्रोश के बाद अब तक कोई ठोस कार्यवाही न होने से भी प्रशासन की कार्यशैली पर लगातार प्रश्न खड़े हो रहे है। कमलेश तिवारी की माँ ने एक बयान में इस हत्याकांड के लिए राज्य की मौजूदा योगी सरकार को कटघरे में खड़ा कर कमलेश तिवारी की मौत का जिम्मेदार ठहराया वहीं मीडिया पर मामले को हिन्दू-मुस्लमान का रूप देने का भी आरोप लगाया। 

पैगम्बर मोहम्मद पर विवादास्पद  टिप्पणी और मौलानाओं की गिरफ्तारी

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के मुर्शिदाबाद में हुए इस हत्याकांड में अबतक दो मौलानाओं समेत 8 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। बता दें कि मौलानाओं की गिरफ्तारी 2015 के उस विवाद का हिस्सा है जब कमलेश तिवारी ने बतौर हिन्दू महासभा अध्यक्ष पैगम्बर मोहम्मद पर विवादास्पद टिप्पणी की थी। जिसके बाद मौलानाओं ने तिवारी के खिलाफ फतवा जारी करते हुए सरकलम करने पर लाखों व करोड़ों के इनाम की पेशकश की थी।  बता दें कि हिंदू महासभा के पूर्व नेता और हिंदू समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश तिवारी हत्याकांड के संदिग्धों की तलाश जारी है। इसी बीच शाहजहांपुर से एक वीडियो सामने आया है जिसमें इन हत्यारों को देखे जाने की बात कही जा रही है। वीडियो के सार्वजनिक होने के बाद से ही एसटीएफ ने होटलों और मदरसों के मुसाफिरखानों में ताबड़तोड़ छापेमारी की है। 

Camera captives Tiwari massacre killers
होटल पैराडाइस में लगे कैमरे की सीसीटीवी फुटेज में कैद हुए हत्यारे  

कमलेश तिवारी के परिजन अबतक हुई कार्यवाही के बाद भी संतुष्ट नहीं है परिजन जल्द से जल्द आरोपियों के खिलाफ जल्द से जल्द गिरफ्तारी की मांग कर रहा है। तिवारी के अंतिम संस्कार के बाद आज परिजनों ने राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। इस दौरान आरोपियों की पहचान के मामले में पुलिस को सीसीटीवी में कातिलों का चेहरा देखें जाने की बात कही है। सूत्रों की मानें तो कमलेश तिवारी हत्या के संदिग्ध हत्यारे लखीमपुर जिले के पलिया से इनोवा गाड़ी बुक कराकर शाहजहांपुर पहुंचे थे। होटल पैराडाइस में लगे कैमरे की सीसीटीवी फुटेज में इन दोनों संदिग्ध हत्यारों को देखे जाने का दावा किया जा रहा है। 

Related posts

धर्म नहीं उत्पीड़ित अल्पसंख्यकों को बनाया जाए नागरिकता संशोधित कानून का आधार- सी.के बोस

admin

हरियाणा में शपथ ग्रहण से पहले तिहाड़ से बाहर आए चौटाला

admin

पीएम मोदी को शिवाजी की उपाधी, शिवसेना ने बताया चाटुकारिता की हद

admin

Leave a Comment

UA-148470943-1