Breaking News State

यूपी में श्रम कानून में बदलाव, अब 8 घंटे की बजाए 12 घंटे करनी पड़ेगी नौकरी

Changes in labor law in UP, now you have to do 12 hours instead of 8 hours

कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए लगाए लॉकडाउन की मार सबसे ज्यादा मडजदूरों पर पड़ी है। जिससे उद्योग-धंधों पर भी बुरी तरह प्रभाव पड़ा है। लॉकडाउन की वजह से लोग अपने घरों में कैद है जिसकी वजह से बाजार में मांग कम हो रहे है जिससे उत्पादनों में कमी आने शुरु हो गई है। हालांकि, उत्पादनों की कमी की वजह है, ज्यादातर फैक्टरियों से मजदूर, कामगार की या तो नौकरी जा रही है या फिर उनकी सैलरी में कटौती हो रही है। रियल सेक्टर में काम बंद होने से कई बड़े प्रोजेक्ट बंद पड़े हैं और मजदूरों के पास काम नहीं है। कंपनियों और फैक्टरियों को घाटा हो रहा है।

आपको बता दें कि उद्योग धंधों को इससे उबारने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने अगले तीन सालों तक श्रम कानूनों में बदलाव करते हुए 8 घंटे की नौकरी को 12 घंटों में तब्दील कर दिया है। जिसका विरोध विपक्ष के साथ-साथ आरएसएस से जुड़े भारतीय मजदूर संघ ने किया है।

कारखाना अधिनियम के तहत कर्मचारियों के लिए दिए छूट

राज्य सरकार की ओर से जारी बयान के मुताबिक, कारखाना अधिनियम 1948 के अंर्तगत आने वाले रजिस्ट्रीकृत सारे कारखाने धारा 51, 54, 55, 56, और धारा 59 के तहत कर्मचारियों के लिए साप्ताहिक, घंटों, दैनिक घंटों, अतिकाल, और विश्राम आदि से संबंधित विभिन्न नियमों से 19 जुलाई 2020 तक के लिए छूट के लिए प्राप्त होंगे।

जारी आदेश के मुताबिक कोई कर्मचारी किसी भी कारखाने में प्रति दिन 12 घंटे और सप्ताह में 72 घंटे से ज्यादा काम नहीं करेगा. पहले यह अवधि दिन में 8 घंटे और सप्ताह में 48 घंटे थी।
12 घंटे की शिफ्ट के दौरान 6 घंटे के बाद 30 मिनट का ब्रेक दिया जाएगा।
12घंटे की शिफ्ट करने वाले कर्मचारी की मजदूरी दरों के अनुपात में होगी यानी अगर किसी मजदूर की आठ घंटे की 80 रुपये है तो उसे 12 घंटे के 120 रुपये दिए जाएंगे. आपको बता दें कि पहले ओवर टाइम करने पर प्रतिघंटे सैलरी के हिसाब से दोगुनी सैलरी मिलती थी।

Related posts

लाइसेंसी रिवाल्वर से इंस्पेक्टर ने बेटे को उतारा मौत के घाट, इलाके में सनसनी  

admin

अमेरिका में मरने वाले 23 हजार, डोनाल्ड ट्रंप ने चीन को दी धमकी

admin

शाहीन बाग का प्रदर्शनकारी पाया गया संक्रमित, सीएए प्रदर्शन पर कही बड़ी बात

admin

Leave a Comment

UA-148470943-1