Breaking News National

सीजेआई रंजन गोगोई को मिली अंतिम विदाई, देश के इतिहास में नाम हुआ दर्ज

CJI Ranjan Gogoi's last farewell, name recorded in the country's history

नई दिल्ली || ‘सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन’ (एससीबीए) ने एक सादे समारोह में निवर्तमान प्रधान न्यायाधीश (सीजेआई) रंजन गोगोई को विदाई दी। देश के 46 वें प्रधान न्यायाधीश के रूप में न्यायमूर्ति गोगोई ने अंतिम बार शीर्ष अदालत की पीठ की अध्यक्षता की। बता दें कि 17 नवंबर को रंजन गोगोई अपने पद से सेवानिवृत्त हो रहे हैं। आज उच्चतम न्यायालय के कक्ष संख्या एक में पीठ में अंतिम बार शामिल हुए। न्यायमूर्ति गोगोई महज चार मिनट के लिए इस पीठ में बैठे। पीठ में उनके अतिरिक्त न्यायमूर्ति एसए बोबडे भी थे, जो देश के अगले प्रधान न्यायाधीश बनने वाले हैं। इस दौरान उच्चतम न्यायालय बार एसोसिएशन के अध्यक्ष राकेश खन्ना ने बार की ओर से प्रधान न्यायाधीश के प्रति आभार व्यक्त किया।

47वें प्रधान न्यायाधीश के रूप में शरद अरविंद बोबडे 18 नवंबर को लेगें शपथ

गौरतलब है कि प्रधान रंजन गोगोई ने अपनी रिटायरमेंट से पहले सदियों से चली आ रही विवादित जमीन राममंदिर और बाबरी मस्जिद दोनों के हक में फैसला दिया। जिसके बाद रंजन गोगोई का नाम देश के सबसे विवादास्पद और चर्चित सुनवाई के साथ जुड़ गया। जो उनके लिए किसी उपलब्धि से कम नहीं है। रंजन गोगोई के बाद देश के 47वें प्रधान न्यायाधीश के रूप में शरद अरविंद बोबडे 18 नवंबर को शपथ लेगें। न्यायमूर्ति गोगोई बाद में सभी उच्च न्यायालयों के 650 न्यायाधीशों और 15,000 न्यायिक अधिकारियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बात की। अटार्नी जनरल के के वेणुगोपाल और सॉलीसीटर जनरल तुषाार मेहता भी न्यायाधीशों के पास बैठे हुए थे।

Related posts

“किसानों के पेट प लात मारकर अमीरों के जेब भर रही है सरकार”

admin

सुप्रीम कोर्ट में सीबीएसई का नया प्लान मंजूर, ऐसे होगा मूल्यांकन

admin

निर्भया को मिला ऐतिहासिक इंसाफ, तिहाड़ में एक साथ चार को सजा-ए-मौत

admin
UA-148470943-1