Breaking News National

चक्रवात ‘अम्फान’ 12 घंटों में बन जाएगा सुपर चक्रवात, हाई अलर्ट पर कई राज्य

Cyclone 'Amfan' to become super cyclone in 12 hours, many states on high alert

नई दिल्ली || चक्रवाती तूफान अम्फान विकराल रुप धारण कर रहा है। दिल्ली मौसम विभाग के डायरेक्टर जनरल मृत्युंजय महापात्र ने कहा कि अम्फान 12 घंटों में एक सुपर चक्रवात में बदलेगा। जानकारी के मुताबिक 19 मई को यह चक्रवात भीषण तबाही मचा सकता है। इस बात की जानकारी भारत के मौसम विभाग (IMD) ने दी है।  ये अभी उत्तर-उत्तर पूर्व दिशा में गति करेगा। 20 तारीख की दोपहर या शाम को ये दीघा/हातिया द्वीपों को बीच से पार करेगा। इस दौरान इसकी गति 155-165km/hr और गंभीर होने पर 185km/hr हो सकती है। इस चेतावनी के बाद राज्य सरकार 11 लाख लोगों को इन इलाकों से निकालने की तैयारी में जुट गई है।

अगले 12 घंटे में और शक्तिशाली अम्फान

भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने कहा कि अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान में तब्दील हुआ ‘अम्फान’ बंगाल की खाड़ी से लगने वाले मध्य हिस्सों और पश्चिम-मध्य हिस्सों के ऊपर 13 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से बढ़ रहा है और यह अगले 12 घंटों में और शक्तिशाली होकर विकराल रूप ले सकता है। विभाग ने कहा कि अत्यधिक तेज हवाओं से कच्चे घरों को बहुत ज्यादा नुकसान और ‘पक्के’ घरों को कुछ हद तक नुकसान पहुंच सकता है।

फसलों खेतों- बगीचों को बड़े पैमाने पर भारी नुकसान

उन्होंने कहा कि तेज हवाओं के कारण बिजली एवं संचार के खंभे मुड़ या उखड़ सकते हैं, रेलवे सेवाओं को कुछ हद तक बाधित कर सकते हैं और ऊपर से गुजरने वाली बिजली की तारों एवं सिग्नल प्रणालियां प्रभावित हो सकती हैं तथा तैयार फसलों, खेतों-बगीचों को बड़े पैमाने पर नुकसान हो सकता है। भुवनेश्वर के मौसम केंद्र के निदेशक, एच आर बिस्वास ने बताया कि अम्फान का केंद्र ओडिशा के पारादीप से 790 किलोमीटर दक्षिण में, पश्चिम बंगाल के दीघा से 940 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिणपश्चिम और बांग्लादेश के खेपुपारा से 1060 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिणपश्चिम में है।

भारी बारिश की संभावना

भुवनेश्वर मौसम विज्ञान केंद्र के डायरेक्टर एचआर बिस्वास ने कहा कि बंगाल की खाड़ी में उठा तूफान अगले 12 घंटों में और तेज होने की संभावना है। जो 18 मई यानी सोमवार को गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल सकता है। इस दौरान तेज हवाओं के साथ भारी बारिश होने की आशंका है। मछुआरों को समंदर तट पर ना जाने की सलाह दी गई है।

तेज हवा और बारिश की संभावना

मौसम विभाग के अनुसार चक्रवाती तूफान अम्फान से तटीय ओडिशा में 18 मई को हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है, जबकि कुछ जगहों पर भारी बारिश होने का अनुमान है। साथ ही अंडमान-निकोबार आइलैंड समेत कई जगहों पर भारी बारिश की भी संभावना जताई गई है। तूफान की वजह से ज्यादातर तटीय राज्यों में बारिश हो सकती है।

मछुआरों को समंदर किनारे ना जाने की सलाह

मौसम विभाग की ओर से मछुआरों को 18 से 20 तारीख के बीच ओडिशा और बंगाल के तटों के समंदर किनारे ना जाने की सलाह दी गई है। इसके अलावा जो मछुआरे समंदर तट पर मौजूद हैं, उन्हें भी 17 मई तक लौटने के लिए कहा गया है। मछुआरों को सलाह दी गई है कि वे मछली पकड़ने के लिए 17 मई तक बंगाल की दक्षिणी खाड़ी में, 17 व 18 मई के दौरान केंद्रीय खाड़ी में और 19 व 20 मई के दौरान बंगाल की उत्तरी खाड़ी में ना जाएं।

ओडिशा सरकार ने की श्रमिक स्पेशल ट्रेनें रोकने की मांग

ओडिशा में चक्रवात के खतरे को देखते हुए प्रदेश सरकार ने केंद्र सरकार से मांग की है कि राज्य से होकर गुजरने वाली ट्रेनों को रोक दिया जाए. ओडिशा सरकार ने राज्य के तटीय इलाकों से होकर गुजरने वाली श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को 3-4 दिन के लिए निलंबित करने की मांग की है.

Related posts

हरियाणा में शपथ ग्रहण से पहले तिहाड़ से बाहर आए चौटाला

admin

महाराष्ट्र की सियासत में सभी कयासों पर प्रश्नचिन्ह, आखिर कब बनेगी सरकार

admin

मुफ्ती को नहीं मिली राहत, घर पर किया जाएगा शिफ्ट पर हिरासत रहेगी बरकरार

admin

Leave a Comment

UA-148470943-1