Breaking News National

कोरोना के हाहाकार के बावजूद नहीं टलेगें चुनाव, 18 जिलों में पहले चरण की वोटिंग आज

Elections will not be postponed despite Corona's outcry, first phase voting in 18 districts today,

कोरोना महामारी के बीच यूपी में पंचायत चुनाव के पहले चरण का मतदान आज सुबह सात बजे से शुरू हो जाएंगे। सोशल मीडिया पर पंचायत चुनाव को टालने की चल ही अफवाह पर रोक लगाते हुए पंचायती राज निदेशक किंजल सिंह ने साफ किया कि पंजायती चुनाव नहीं टलेंगे। पोलिंग पार्टियां पहुंच चुकी हैं। पंचायत चुनाव के पहले चरण के तहत बृहस्पतिवार को 18 जिलों में 2.21 लाख से ज्यादा पदों के लिए मतदान होगा। राज्य निर्वाचन आयोग कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक मतदान सुबह सात बजे से शुरू होकर शाम छह बजे तक चलेगा। जिला पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य, ग्राम प्रधान और ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य के 2.21 लाख से अधिक पदों के लिए 3.33 लाख से ज्यादा उम्मीदवार मैदान में हैं।

कोरोना काल में होगा पंचायती चुनाव का खेल

चार चरणों में होने वाले चुनाव के पहले चरण में अयोध्या, आगरा, कानपुर, गाजियाबाद, गोरखपुर, जौनपुर, झांसी, प्रयागराज, बरेली, भदोही, महोबा, रामपुर, रायबरेली, श्रावस्ती, संत कबीर नगर, सहारनपुर, हरदोई और हाथरस जिलों में मतदान होगा। पहले चरण में जिला पंचायत सदस्य के 779 पदों के लिए 11,442 प्रत्याशी, क्षेत्र पंचायत सदस्य के 19,313 पदों के लिए 81,747 उम्मीदवार, ग्राम प्रधान के 14,789 पदों के लिए 1,14,142 प्रत्याशी तथा ग्राम पंचायत वार्ड सदस्यों के 1,86,583 पदों के लिए 1,26,613 उम्मीदवार मैदान में हैं। प्रशासन ने साफ किया है कि मतदान कोविड-19 संबंधित कड़े प्रोटोकॉल के बीच होगा। इस दौरान मतदाताओं को मास्क लगाना और सामाजिक दूरी बनाए रखना अनिवार्य होगा। आयोग ने मतदान केंद्रों के बाहर छह-छह फीट की दूरी पर घेरे बनाने का आदेश जारी किया है।

देश में हाहाकार फिर भी कराना है मतदान

आपको बता दें कि इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने राज्य सरकार को आगामी 25 मई तक पंचायत चुनाव की प्रक्रिया संपन्न कराने के आदेश दिए थे। इस बार चुनाव मैदान में भाजपा, सपा और कांग्रेस के साथ-साथ, आम आदमी पार्टी, आजाद समाज पार्टी तथा असदुद्दीन ओवैसी की अगुवाई वाली ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन भी है। तमाम पार्टियां अपने पार्टी के प्रदर्शन को बेहतर बताते हुए अच्छे परिणाम की आस लगाए बैठी है पर कोरोना के इस काल में जब केन्द्र सरकार तमाम तरह के प्रतिबंधों की बात करती है वहीं दूसरी ओर जब बात चुनाव की आती है कोरोना कहीं दूर सिमटा हुआ खड़ा नज़र आता है।

Related posts

दिल्ली हिंसा पर जल्द चर्चा की मांग को लेकर विपक्षी दलों का सदन में हंगामा 

admin

हरियाणा में शपथ ग्रहण से पहले तिहाड़ से बाहर आए चौटाला

admin

Share Market में Jio Platfrom देश के सबसे बड़ी पांचवी कंपनी बनी, अब तक 1.68 किए निवेश

admin

Leave a Comment

UA-148470943-1