Breaking News National

सीडब्ल्यूसी के मीटिंग के बाद भी बागी नेताओं की मीटिंग जारी, कांग्रेस की बढ़ सकती है चिंता

Rebel leaders continue to meet even after CWC meeting
  • कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक  में उठा तूफान क्या शांत हो गया है
  • क्या सोनिया गांधी पर लेटर बम फोड़ने वाले ग्रुप 23 के नेता चुप बैठ गए है
कांग्रेस वर्किंग कमेटी की हंगामेदार बैठक के बाद सोनिया गांधी को दोबारा से पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष चुन लिया गया है। लेकिन कांग्रेस के अंदर बगावत की जो आग लगी थी वह अभी भी बुझी नहीं है। ऐसा ही कुछ इशारा कर रही है कांग्रेस को चिट्ठी लिखने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की बैठक … जी हां.. सोनिया गांधी के अंतरिम अध्यक्ष नियुक्त होने के तुरंत बाद ही कपिल सिब्बल, शशि थरूर सहित कुछ वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं ने उसी दिन शाम को गुलाम नबी आज़ाद के आवास पर बैठक  की। बैठक में मुकुल वाशनेय और मनीष तिवारी के साथ-साथ पत्र पर हस्ताक्षर करने वाले कुछ अन्य नेता भी शामिल हुए थे।
सूत्रों की माने तो बैठक में सीडब्ल्यूसी के बैठक के बाद की स्थिति पर चर्चा की गई थी.. आपको बता दें कि सात घंटे सीडब्ल्यूसी की बैठक चली थी जिसमें सोनिया गाँधी और राहुल गांधी का हाथ हर संभव तरीके से मजबूत करने के लिए प्रस्ताव पारित किया गया था… बैठक में जिस तरह से सोनिया को फिर से अंतरिम अध्यक्ष चुना गया था..उससे पार्टी में उनकी स्थिति और ज्यादा दमदार होकर उभरी वहीं विरोध करने वाले नेताओं के लिए पार्टी में मुश्किलें बढ़ने के संकेत सामने आए। सूत्रों के अनुसार सोनिया गांधी इन चिट्ठी लिखने वाले 23 नेताओं से बेहद नाराज़ चल रही है। ऐसे में आपके मन में सवाल होगा कि ये 23 नेता कौन-कौन है तो आइए आपको बताते है विस्तार से
1. गुलाम नबी आज़ाद (राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष)
2.कपिल सिब्बल (पूर्व केन्द्रीय मंत्री)
3. शशि थरूर (तिरूवन्नतपुरम से सांसद)
4.मनीष तिवारी ( श्री आनंदपुर साहिब से सांसद)
5.आनंद शर्मा (राज्यसभा सांसद)
6. पीजे कुरियन ( पार्टी के वरिष्ठ नेता )
7. रेणुका चौधरी (पूर्व केन्द्रीय मंत्री)
8. मिलिंद देवड़ा ( मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष)
9. मुकुल वासनिक ( पूर्व केन्द्रीय मंत्री और पार्टी के वरिष्ठ नेता)
10. जितिन प्रसाद ( पूर्व केन्द्रीय मंत्री )
11. भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ( हरियाणा के पूर्व सीएम और पार्टी के वरिष्ठ नेता)
12. राजिन्दर कौर भट्टल ( पंजाब की पूर्व सीएम )
13. एम वीरप्पा मोइली (पूर्व केन्द्रीय मंत्री )
14. पृथ्वीराज चव्हाण ( महाराष्ट्र के पूर्व सीएम)
15. अजय सिंह ( पार्टी के वरिष्ठ नेता )
16. राज बब्बर ( उत्तर प्रदेश कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष )
17. अरविंद सिंह लवली ( दिल्ली के कद्दावर नेता )
18. कौल सिंह ठाकुर ( हिमाचल कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष )
19. अखिलेश प्रसाद सिंह ( बिहार चुनाव कैंपेन चीफ)
20. कुलदीप शर्मा ( हरियाणा विधानसभा के पूर्व स्पीकर )
21. योगानंद शास्त्री ( दिल्ली विधानसभा के पूर्व स्पीकर )
22.संदीप दीक्षित ( दिल्ली के पूर्व सांसद और दिवंगत शीला दीक्षित के पुत्र)
23. विवेक तन्खा ( राज्यसभा सांसद )
ये वो 23 नेता है जिनपर न केवल राहुल गांधी बल्कि उनकी बहन प्रियंका गांधी की भी गाज़ गिरी और उन्होनें जमकर तीर चलाए… जब सीडब्ल्यूसी की बैठक की शुरूआत हुई थी तब पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के पेशकश की मगर बैठक में पार्टी की ओर से सोनिया गांधी को जो समर्थन मिला  उससे सोनिया गांधी की पैठ पार्टी में और मजबूत हो गई.. और सोनिया गाँधी को फिर से कांग्रेस पार्टी  का अंतिरम अध्यक्ष बना दिया गया है। लेकिन कर्नाटक, मध्यप्रदेश, राजस्थान और अब केन्द्रीय पार्टी में ही ध्रुवीकरण यकीनन पार्टी के लिए चिंता का विषय है। इसी तरह की और अपडेट के लिए आप जुड़े रहे सिमना न्यूज़ के साथ

Related posts

जनता कर्फ्यू के बाद एक बार फिर संबोधित करेंगे PM मोदी

admin

दो जिस्मों को नहीं मिला तीन दिन तक खाना, मौत के बाद निराधार मदद

admin

पंजाब में लॉकडाउन की उड़ाई धज्जियां, पुलिस पर हमलावर ने तलवार से किया हमला

admin

Leave a Comment

UA-148470943-1