30.1 C
New Delhi
August 20, 2019
simna
Breaking News State

उन्नाव हादसे में सामने आए सेंगर और कई लोग, होगी CBI जांच

लखनऊ || उन्नाव गैंगरेप केस एक बार फिर चर्चा में है। जहाँ कार दुर्घटनाग्रस्त हुई और उसमें बैठी उसकी चाची और मौसी की मौत की हो गई। जिसके बाद उत्तर प्रदेश की राजनीति गरमा गई है। दो मौतों के बाद सोमवार को दिनभर नेताओं का आना जाना लगा रहा। वहीं भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर समेत 10 नामजद और 15-20 अज्ञात के खिलाफ रायबरेली के गुरुबख्शगंज थाने में हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया। और यह  एफआइआर रायबरेली जेल में बंद पीडि़ता के चाचा की तहरीर पर दर्ज किया गया ।गौरतलब है देशभर को दहला देने वाले इस मामले की जांच सीबीआइ से कराने का राज्य सरकार ने फैसला लिया। वहीं प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार ने बताया कि सीबीआइ जांच की सिफारिश से जुड़ी औपचारिकताएं पूरी कर उसे केंद्र सरकार को भेज दिया गया है। यहाँ आपको बता दें कि मंगलवार यानि आज केंद्र सरकार सीबीआइ जांच का आदेश करेगी। इस कार हादसे को  समाजवादी पार्टी  और कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी दलों  की आशंका की साजिश बताया। जबकि पीड़ित परिवार इस घटना को हादसा नहीं बल्कि हत्या बता रहा है।

उन्नाव रेप पीड़िता केस में हुआ नया खुलासा

उन्नाव रेप पीड़िता के साथ हुए कार हादसे में नया खुलासा हुआ है. पुलिस के अनुसार, एक्सीडेंट करने वाला ट्रक समाजवादी पार्टी नेता नंदू पाल के बड़े भाई देवेंद्र पाल का है. वहीं आपको बता दें कि हादसे के बाद फतेहपुर के जेल रोड पर देवेंद्र पाल के मकान में ताला बंद है. गौरतलब है कि देवेंद्र पाल ललौली थाना क्षेत्र के मुत्तोर गांव के रहने वाले हैं. जहाँ दोषी की तलाश शुरू कर दी गई है। वहीं आपको बताते चले कि बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर, उनके भाई मनोज सेंगर और आठ अन्य के खिलाफ सड़क दुर्घटना के एक मामले में पुलिस ने एक प्राथमिकी दर्ज की है। इस दुर्घटना में उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता और उनके वकील गंभीर रूप से घायल हो गए थे, जबकि इस हादसे में उनकी दो महिला रिश्तेदारों की मौत हो गई थी।बताया जा रहा है हादसे में मृत महिलाओं में से एक उन्नाव दुष्कर्म मामले की गवाह थी। इसके बाद यह मामला एक बड़े विवाद में बदल गया. ट्रक के मालिक, ड्राइवर और क्लीनर को गिरफ्तार कर लिया गया है.

Related posts

बागी विधायकों के बाद मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने खटखटाया उच्चतम न्यायालय का दरवाजा

admin

केन्द्र सरकार का मास्टर स्ट्रोक, धारा 370 और 35ए खत्म

admin

निर्वाचन आयोग के फैसले के खिलाफ दायर याचिका खारिज

admin

Leave a Comment