30.1 C
New Delhi
August 20, 2019
simna
Crime

बरसों बाद मिले अस्तित्व को शक की गहराईयों ने उतारा मौत के घाट

नई दिल्ली || कांग्रेस के दिवंगत नेता एन डी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी की हत्या के मामले में गिरफ्तार रोहित की पत्नी अपूर्वा शुक्ला के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने एक आरोप पत्र दायर किया है। दिल्ली पुलिस ने बताया कि उसने 518 पृष्ठीय आरोप पत्र साकेत अदालत में दायर किया है और इसमें रोहित की मां उज्ज्वला तिवारी समेत 56 लोगों के नाम गवाह के तौर पर दर्ज किए गए हैं। इस आरोप पत्र के अनुसार 35 वर्षीय वकील अपूर्वा के खिलाफ धारा 302 के तहत आरोप तय किए हैं जो हत्या से संबंधित है और इसके तहत दोषी पाए जाने पर मृत्युदंड या आजीवन कारावास की सजा हो सकती है।

 
शक में अपूर्वा ने दिया मौत को अंजाम 

आरोप पत्र में कहा गया है कि 15 अप्रैल को रोहित शेखर, उसकी भाभी, एन डी तिवारी का निकट सहयोगी और उनके दो अन्य कर्मी मतदान के बाद उत्तराखंड के हल्द्वानी से लौट रहे थे और अपूर्वा ने रोहित को वीडियो कॉल करके किया जिसमें अपूर्वा ने रोहित को भाभी के साथ शराब पीते देख लिया था। आरोप पत्र के अनुसार रात करीब 10 बजे रोहित ने घर लौटने के बाद देर रात अपूर्वा की अपने पति से बहस हुई जिसके बाद उसने अपने पति की कथित रूप से हत्या कर दी। पुलिस के अनुसार फोरेंसिक विशेषज्ञों ने बताया कि रोहित के कमरे में बाहर से कोई नहीं आ सकता था। रोहित के घर की सीसीटीवी फुटेज के अनुसार अपूर्वा उन लोगों में शामिल थी जो आखिर में रोहित के कमरे में गए थे। इन तथ्यों को सबूत के रूप में शामिल किया गया है। पुलिस ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला कि रोहित की मौत दम घुटने के कारण हुई। इसके बाद हत्या का मामला दर्ज किया गया और मामले को अपराध शाखा को सौंप दिया गया। अपूर्वा को 24 अप्रैल को गिरफ्तार किया गया।
 
रोहित की अस्तित्व की कहानी

बता दें कि रोहित शेखर सबसे पहले उस वक्त चर्चा में आए थे जब उन्होनें पिता का नाम पाने के लिए लंबा संघर्ष किया था। इस संघर्ष ने रोहित को पिता के नाम के साथ-साथ, पिता का प्यार और संपत्ति सबकुध दिया। रोहित की मां को भी एन डी तिवारी की पत्नी का भी दर्जा मिला। लेकिन अपने अस्तित्व के लंबी लड़ाई तो रोहित ने जीत ली सबकुछ ठीक था पर शादी के बाद खुशी से महकने वाली रोहित की ज़िदंगी उसकी मौत का सबब बन गई। अपूर्वा और रोहित की मुलाकात 2017 में एक वैवाहिक विज्ञापन वेबसाइट के जरिए हुई थी और दोनों का पिछले साल मई में विवाह हुआ था। दरअसल अपूर्वा को इस बात का संदेह था कि उनके पति का उनकी भाभी से एक बेटा है और उसे इस बात का डर था कि संपत्ति उस बेटे के पास जा सकती है। आरोप पत्र के अनुसार अपनी भाभी के साथ शराब पीने को लेकर रोहित का अपनी पत्नी अपूर्वा के साथ झगड़ा हुआ था। अपूर्वा रोहित की भाभी को पसंद नहीं करती थी। इस झगड़े के बाद अपूर्वा ने रोहित की कथित रूप से ‘‘गला घोंट कर’’ हत्या कर दी।

Related posts

मासूम बच्ची की निर्मम हत्या की जाँच के लिए एसआईटी का गठन

admin

पहले रचाई शादी , फिर दुल्हन ने किया घर साफ …

admin

सबसे बेहतर सपा-बसपा गठबंधन, 74 सीटों पर सिमटकर रह जाएगी भाजपा – अखिलेश

admin

Leave a Comment